Article 370 हटाने पर लेकर महबूबा मुफ्ती ने दे दिया ये बड़ा बयान, आप भी जानिए…पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) ने धारा 370 और 35 A के हटाते ही लगातार कई ट्वीट कर अपना नाखुशी दर्ज कराई है. ट्विटर पर कहा है कि भारत अपने वादों को निभाने में विफल रहा हैै और आर्टिकल 370 और 35ए के हटाने के परिणाम बहुत ही खराब होंगे.

महबूबा के मुताबिक, भारत सरकार की मंशा साफ है और केंद्र सरकार के लोगों को आतंकित करना चाह रही है. पूर्व मुख्यमंत्री ने ट्वीट में लिखा है कि1947 में 2 राष्ट्र के सिद्धांत खारिज करने और भारत के साथ मिलाने के जम्मू एवं कश्मीर नेतृत्व के फैसले का उल्टा असर हुआ। धारा 370 को भंग करने के लिए भारत सरकार का एकतरफा निर्णय गैरकानूनी और असंवैधानिक है.

उन्होंने कहा है कि उपमहाद्वीप के लिए इसके विनाशकारी परिणाम होंगे। भारत सरकार के इरादे स्पष्ट हैं। वे लोगों को आतंकित कर जम्मू एवं कश्मीर का क्षेत्र चाहते हैं। कश्मीर से किए वादे निभाने में भारत नाकाम रहा है।

महबूबा मुफ्ती ने अपने अगले ट्वीट में लिखा है कि मेरे जैसे लोग जो संसद में विश्वास रखते हैं, के साथ धोखा हुआ है.

महबूबा मुफ्ती ने अपने अगले ट्वीट में लिखा है कि मेरे जैसे लोग जो संसद में विश्वास रखते हैं, के साथ धोखा हुआ है. इसके बाद उन्होंने लिखा है कि जो लोग उस समय भारतीय संविधान की रिजेक्ट किया था उनकी बात आज सच हो गई. महबूबा के हिसाब से ये फैसला कश्मीरियों को और दूर करेगा.

महबूबा ने अपने तीसरे ट्वीट में कहा है कि भारत की सरकार बिल्कुल ही क्लियर है. भारत सरकार, देश की एकमात्र मुस्लिम जनसंख्या वाले राज्य की डेमोग्राफी को बदल देना चाहते हैं और अपने ही राज्य में मुस्लिमों को दूसरे पायदान पर लाना चाहते हैं.

महबूबा मुफ्ती ने अलग ट्वीट में सवाल पूछा है कि जम्मू कश्मीर की जनता को भारत की बात मानकर क्या मिला है?

जिस कांट्रैक्ट के तहत जम्मू कश्मीर भारत के साथ आया था वो आज सरकार ने खत्म कर दिया है. महबूबा का कहना है कि उनका विशिष्ट दर्जा कोई गिफ्ट के तौर पर उन्हें नहीं मिला था बल्कि वो उसी कांट्रैक्ट का हिस्सा था.

आज राज्यसभा में गृहमंत्री अमित शाह ने 370 और 35A को हटा दिया गया है.

Hindi Planet News पर ये खबर पढ़ने के लिए धन्यवाद, अगर आपको ये खबर अच्छी लगी हो तो इसे लाइक करके अपने सभी दोस्तों के साथ शेयर जरुर करें | ऐसी ही मजेदार खबरें पढ़ने के लिए हमें फॉलो जरुर करें |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here