कोई भी गलत कार्य करने पर उसका खामियाजा व्यक्ति को जुर्माने के रूप में भुगतना पड़ता है | स्कूल में किसी को परेशान करने पर टीचर जुर्माना लगाती थी तो यातायात नियमों का पालन न करने पर पुलिसकर्मी चालान बनाकर जुर्माना लगाते हैं | हाल ही में एक खबर आई है, जिसके अनुसार भारत के सबसे बड़े सरकारी बैंक भारतीय स्टेट बैंक पर भी जुर्माना लगाया गया है|

प्राप्त जानकारी के अनुसार, रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक एसबीआई को बड़ा झटका दिया है| दरअसल, आरबीआई ने एसबीआई पर 7 करोड़ रुपए का जुर्माना लगाया है| यह जुर्माना एनपीए (नॉन-परफॉर्मिं एसेट्स) और अन्‍य प्रावधानों से जुड़े नियमों का पालन नहीं करने को लेकर लगाया गया है| इसी तरह यूनियन बैंक ऑफ इंडिया पर 10 लाख रुपए का जुर्माना लगा है |

केंद्रीय बैंक के मुताबिक, एसबीआई ने आय पहचान और संपत्ति वर्गीकरण (आईआरएसी) नियमों का पालन नहीं किया | इसके अलावा बैंक ने चालू खातों को खोलने और उसके परिचालन के लिए आचार संहिता को भी नजरअंदाज किया | केंद्रीय बैंक ने बताया कि एसबीआई पर धोखाधड़ी और उसकी रिपोर्टिंग से जुड़े नियमों का पालन नहीं करने का भी आरोप है | आरबीआई द्वारा जांच रिपोर्ट और अन्य जरूरी दस्तावेज देखने के बाद बैंक को नोटिस दिया गया था | बैंक से मिले जवाब और व्यक्तिगत सुनवाई के बाद केंद्रीय बैंक ने जुर्माना लगाने का निर्णय किया गया |

यूनियन बैंक पर भी 10 लाख का जुर्माना

इसके अलावा भारतीय रिजर्व बैंक ने साइबर सुरक्षा से जुड़े निर्देशों का पालन नहीं करने के आरोप में यूनियन बैंक ऑफ इंडिया पर 10 लाख रुपए का जुर्माना लगाया है| रिजर्व बैंक की ओर से जारी एक बयान में कहा गया कि यह जुर्माना 9 जुलाई, 2019 को लगाया गया| केंद्रीय बैंक के मुताबिक यह कार्रवाई नियामकीय अनुपालन में खामियों की वजह से की गई है|

आरबीआई ने बताया कि 2016 में बैंक की स्विफ्ट प्रणाली से निकले 17.1 करोड़ डॉलर मूल्य के 7 धोखाधड़ी वाले संदेशों पर रिपोर्ट के बाद उसके साइबर सुरक्षा ढांचे की जांच में कई खामियां पाई गईं| इन निष्कर्षों के बाद बैंक को नोटिस जारी किया गया| बैंक की ओर से मिले जवाब और सुनवाई के दौरान उसकी दलीलों पर गौर करने के बाद केंद्रीय बैंक ने जुर्माना लगाने का फैसला किया|

इसके पूर्व फरवरी माह में भी भारतीय रिजर्व बैंक ने प्रावधानों का उल्लंघन करने को लेकर भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) पर एक करोड़ रुपए का जुर्माना लगाया था । एसबीआई ने शेयर बाजार से कहा था कि रिजर्व बैंक ने एक कर्जदार को दिए गए पैसे के इस्तेमाल की निगरानी नहीं करने को लेकर यह जुर्माना लगाया है

Hindi Planet News पर ये खबर पढ़ने के लिए धन्यवाद, अगर आपको ये खबर अच्छी लगी हो तो इसे लाइक करके अपने सभी दोस्तों के साथ शेयर जरुर करें | ऐसी ही मजेदार खबरें पढ़ने के लिए हमें फॉलो जरुर करें |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here