केरल के अलप्पुझा जिले के वलीकुन्नम पुलिस थाने में तैनात महिला पुलिस कांस्टेबल सौम्या पुष्पाकरन को उनके पुरुष सहयोगी अजास ने शनिवार शाम कथित तौर पर का’ट दिया और आ’ग लगा दी। सौम्या की मौके पर ही मौ’त हो गई।

पुलिस ने पाया है कि सौम्या और अजास एक-दूसरे को कई सालों से जानते थे। सौम्या की मां इंदिरा ने मीडिया को बताया कि अजास बार-बार सौम्या को शादी के प्रस्ताव के साथ परेशान कर रहा था। महिला कांस्टेबल शादीशुदा थी और उसका पति संजीव लीबिया में काम करता है। दंपति के तीन बच्चे हैं।

सौम्या की माँ इंदिरा ने कहा,  “सौम्या ने अजा से 1.50 लाख रुपये लिए थे और जब वह रकम वापस करना चाहती थी, तब अजा ने उसे वापस लेने से इनकार कर दिया। उसने अजा  के बैंक खाते में राशि जमा की थी, लेकिन उसने उसे लौटा दिया। वह मेरी बेटी से शादी करना चाहता था। जब उसने प्रस्ताव को अस्वीकार कर दिया, तो अजस ने उसके पति और बच्चों को मा’रने की ध’मकी दी। वह प्रस्ताव लेकर दो बार सौम्या के घर आए। इंदिरा ने कहा कि एक मौके पर उन्होंने अजा को जूते से भी पीटा।”

12 साल के सौम्या के सबसे बड़े बेटे हृषिकेश ने संकेत दिया कि उन्हें अपनी मां को अजास के सामने आने वाले खतरे के बारे में पता था। हृषिकेश ने कहा, “दो हफ्ते पहले, माँ ने मुझे बताया था कि अगर उसके साथ कुछ भी हुआ, तो अजस जिम्मेदार होगा। वह बार-बार फोन पर उसे परेशान करता था।”

अलप्पुझा एसपी के एम एम टॉमी ने कहा कि पुलिस द्वारा अजा के बयान को दर्ज नहीं किया गया है, जो अभी जख्मी है। उन्होंने कहा, “हम पी’ड़ित और आ’रोपी के बीच संबंध देख रहे हैं और ह’त्या का कारण क्या है इसकी भी पुस्टि कर रहे हैं। ”

हालांकि सौम्या के परिवार ने आरोप लगाया कि उसने अजा के खिलाफ पुलिस में शिकायत की थी, पुलिस सूत्रों ने कहा कि उन्हें वल्लिकुन्नम पुलिस स्टेशन में ऐसी कोई शिकायत नहीं मिली है। अजास अविवाहित है और 9 जून से छुट्टी पर था।

Hindi Planet News पर ये खबर पढ़ने के लिए धन्यवाद, अगर आपको ये खबर अच्छी लगी हो तो इसे लाइक करके अपने सभी दोस्तों के साथ शेयर जरुर करें | ऐसी ही मजेदार खबरें पढ़ने के लिए हमें फॉलो जरुर करें |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here