प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज यानी बुधवार को अरुणाचल के पासीघाट में जनसभा को संबोधित किया| अपने संबोधन के दौरान उन्होंने कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा| इसके साथ ही पीएम ने कांग्रेस के घोषणा-पत्र को ढकोसला-पत्र बताया| पीएम ने कहा कि अरुणाचल प्रदेश के लोगों के समर्थन की वजह से हम सड़कों, राष्ट्रीय राजमार्ग, रेलवे को विकसित करने और देश के बाकी हिस्सों के साथ राज्य के हवाई संपर्क को बेहतर किया| ये सभी आपके मजबूत विश्वास का परिणाम है| आपके विश्वास का ही परिणाम है कि आज़ादी के सात दशक बाद अरुणाचल के सभी गांवों तक बिजली पहुंचा पाए हैं, हर घर को रोशन कर पाए हैं| आपके मजबूत विश्वास का ही नतीजा है कि आज अरुणाचल में शिक्षा और स्वास्थ्य को लेकर अनेक संस्थान बन रहे हैं|”

कांग्रेस के घोषणा-पत्र पर निशाना

कांग्रेस पर निशाना साधते हुए पीएम ने कहा, “हम सिर्फ एक वादा करके उसे दशकों तक लटकाये रखने वाले लोग नहीं हैं बल्कि आपके जीवन को आसान बनाने के लिए पूरी ईमानदारी से काम करने वाले लोग हैं| इन लोगों की तरह इनका घोषणापत्र भी भ्रष्ट होता है, बेइमान होता है, ढकोसलों से भरा होता है और इसीलिए उसे घोषणापत्र नहीं ढकोसला पत्र कहना चाहिए| एक परिवार ने 55 साल तक दावा किया, लेकिन ये फिर भी दावा नहीं कर सकते हैं कि हिन्दुस्तान के सारे काम पूरे कर दिए हैं| मुझे तो पांच साल होने वाले हैं, लेकिन मैं इतना जरूर कह सकता हूं कि मैं हर चुनौतियों को चुनौती देने वाला इंसान हूं| जो लोग देश का अपमान करते हैं ऐसे लोगों से कांग्रेस सहानुभूति रखती है| जो भारत के संविधान को नहीं मानत ऐसे लोगों के खिलाफ देशद्रोह का जो कानून है उसको खत्म करने का वादा कांग्रेस पार्टी ने किया है|”

कांग्रेस की नीति वोट बैंक की नीति

कांग्रेस की नीतियों पर प्रहार करते हुए पीएम ने कहा, “कांग्रेस की नीति वोट बैंक बनाने की रही है| वो इसी वोट बैंक के लिए काम करती है। फिर चाहे इसे देश को नुकसान ही क्यों ना हो|” पीएम ने अपने भाषण के बाद जनता से अपील की कि 11 अप्रैल को पूरी मजबूती के साथ आप लोग विकास के डब्ल इंजन कमल छाप डब्ल इंजन को शक्ति देकर अरुणाचल और देश की चौकीदारी को सशक्त करें|

Hindi Planet News पर ये खबर पढ़ने के लिए धन्यवाद, अगर आपको ये खबर अच्छी लगी हो तो इसे लाइक करके अपने सभी दोस्तों के साथ शेयर जरुर करें | ऐसी ही मजेदार खबरें पढ़ने के लिए हमें फॉलो जरुर करें |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here