सोमवार को जारी नगरपालिका की एक रिपोर्ट में पता चला कि साल दिल्ली में मलेरिया के कम से कम 66 मामले दर्ज किए गए। वहीं डेंगू के 27 मामले सामने आए हैं इन आंकड़ों से ये ही पता चलता है कि मलेरिया दिल्ली वालों पर डेंगू से दोगुना क‘हर बरपा रहा है।
इन सभी मामलों में से 57 जून में दर्ज किए गए। बीते साल दक्षिण दिल्ली नगर पालिका ने डेंगू के 2,798 मामले और 4 मौ‘तें दर्ज की थी। इस रिपोर्ट के मुताबिक इस साल जुलाई महीने की 13 तारीख तक डेंगू के 27 मामले दर्ज किए गए। जिनमें से 16 मामले जून में रिकॉर्ड किए गए, 3 मई में, 2 अप्रैल में, 4 मार्च में, जनवरी और फरवरी महीने में एक-एक।

वेक्टर जनित बीमारी(ये ऐसी बीमारियां होती है जो किसी जीवित और इनफेक्टिड जीव के काटने से फैलती हैं जैसे कि मच्छर) आमतौर पर जुलाई से नवंबर महीने के बीच देखी जाती हैं लेकिन ये अवधि दिंसबर महीने के बीच तक जा सकती है। इन 66 मामलों में 8 मई महीने में रिकॉर्ड किए गए, 1 अप्रैल में। चिकनगुनिया के 14 मामलों में से 9 मामले जून में रिकॉर्ड किए गए, 2 फरवरी में, 1-1 मार्च, अप्रैल और मई महीने में।

डॉक्टरों ने लोगों को इस बात की सावधानी बरतने की सलाह दी है कि उनके आसपास मच्छरों के लार्वा का प्रजनन ना हो। डॉक्टरों ने लोगों से ये भी आग्रह किया कि वो पूरी बाजू के कपड़े पहनें और मच्छरदानी का इस्तेमाल करें।

एक डॉक्टर ने कहा कि जब कूलर का इस्तेमाल ना हो रहा हो तो उन्हें सूखा कर रख देना चाहिए क्योंकि आमतौर पर डेंगू के वायरस वहां पर प्रजनन करते हैं। इस साल कम से कम 38,512 घरों में मच्छरों का प्रजनन देखा गया और 38,294 लीगल नोटिस भी जारी किए गए।
पूर्वी दिल्ली की महापौर अंजू ने सोमवार को कहा कि 17 जुलाई से 19 जुलाई तक पूर्वी दिल्ली के सभी वार्डों में एक डेंगू, मलेरिया और चिकनगुनिया पर एक जन जागरूकता अभियान अभियान चलाया जाएगा इस अभियान का नेतृत्व पार्षद करेंगे।

बीते साल डेंगू के कुल मामलों में से 141 दिसंबर में दर्ज किए गए थे, 1,062 नवंबर महीन में, 1,114 अक्टूबर में, 374 सितंबर में, 58 अगस्त में, 19 जुलाई में, 8 जून में, 10 मई में, 2 अप्रैल में, 1 मार्च में, 3 फरवरी में और 6 जनवरी महीने में। मलेरिया के 473 और चिकनगुनिया के 165 मामले बीते साल दर्ज किए गए थे। दक्षिणी दिल्ली नगर निगम के मुताबिक दिल्ली में डेंगू से 2017 में 10 लोगों की मौ‘त हुई थी, इन म‘रने वाले लोगों में से 5 दिल्ली के रहने वाले नहीं थे।

Hindi Planet News पर ये खबर पढ़ने के लिए धन्यवाद, अगर आपको ये खबर अच्छी लगी हो तो इसे लाइक करके अपने सभी दोस्तों के साथ शेयर जरुर करें | ऐसी ही मजेदार खबरें पढ़ने के लिए हमें फॉलो जरुर करें |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here