घर में रखा हुआ गंगाजल इस कारण होता है अपवित्र, ये तो आखिर सब ही कर देते है

नमस्कार दोस्तों, हिंदू धर्म पूजा पाठ का प्रतीक है। यहां हर चीज़ की अपनी अलग ही मान्यता है। हिंदू धर्म मे गंगाजल को बहुत अधिक महत्त्व दिया जाता है। यहां आपको हर घर में गंगाजल मिल ही जाएगा। हिंदू धर्म में कोई भी व्यक्ति किसी भी शुभ कार्य को करने से पहले गंगाजल का इस्तेमाल ज़रूर करता है। अगर कोई भी वस्तु अपवित्र होती है तो उस पर गंगाजल डालकर उसे पवित्र मान लिया जाता है।

गंगाजल पाया तो हर घर में जाता है मगर इसको रखने से पहले कुछ सावधानियां बरतनी चाहिए। क्या आप जानते हैं कि क्या है वो सावधानियां? जो लोग घर में गंगाजल रखते हैं और कर देते हैं ये गलतियां तो उन्हें बहुत सारी समस्याओं का सामना करना पड़ता है। इसीलिए आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि गंगाजल रखने के लिए क्या क्या सावधानियां बरतनी चाहिए।

● अगर आप मांस मच्छी का सेवन करते हैं तो मां’स खाने के बाद गंगाजल को न छुएं और अगर छुते भी हैं तो फिर उस गंगाजल को तुरंत बदल दें और नया जल लाने के बाद ही उसको इस्तेमाल में लाएं।

● जिस जगह पर आप गंगाजल को रखते हैं उसके आसपास कभी भी मांस मछली न खाएं और न ही वहां मदिरा का सेवन करें। अगर आप ऐसा करते हैं तो गंगाजल के पवित्र होने का कोई मतलब नहीं रहेगा। वो अपवित्र माना जाएगा।

● गंगाजल को घर में कहीं पर भी न रख दें। उसको रखने का एक उचित स्थान होता है वहीं पर गंगाजल रखें। गंगाजल को हमेशा पूजा करने वाली जगह पर ही रखें और उस जगह की सफाई का विशेष ध्यान दें जहां पर आप गंगाजल रखें। नियमित रूप से गंगाजल को रखने वाले स्थान की सफाई करें।

● गंगाजल को कभी भी प्लास्टिक या किसी भी अन्य बोतल में न रखें। अगर आपने भी ऐसा कर रखा है तो फौरन गंगाजल को निकालकर किसी तांबे या फिर चांदी के बर्तन में रख लें क्योंकि तांबे और चांदी के बर्तन में गंगाजल को रखना शुभ माना जाता है।

Hindi Planet News पर ये खबर पढ़ने के लिए धन्यवाद, अगर आपको ये खबर अच्छी लगी हो तो इसे लाइक करके अपने सभी दोस्तों के साथ शेयर जरुर करें | ऐसी ही मजेदार खबरें पढ़ने के लिए हमें फॉलो जरुर करें |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here