पांच फीसदी आरक्षण की मांग को लेकर रेल पटरियों पर बैठे गुर्जर आंदोलनकारियों का विरोध सोमवार को पांचवें दिन भी जारी रहा। सोमवार सबेरे हाड़ कंपाने वाली ठंड के बावजूद गुर्जर आंदोलनकारी कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला की अगुवाई में मलारनाडूंगर के समीप रेल पटरियों पर बैठे रहे। सुबह से ही आसपास के गांवों से गुर्जर समुदाय के आंदोलनकारियों के हुजूम धरनास्थल की ओर आता रहा। इस बीच धौलपुर के बसेड़ी में आरक्षण आंदोलनकारियों ने बाड़ी-बसेड़ी मार्ग पर स्टेट हाईवे जाम कर दिया।

भूतेश्वर महादेव के पास गुर्जर आंदोलनकारियों ने प्रदर्शन करते हुए सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। टौंक-कोटा-जयपुर हाईवे 12 पर भी गुर्जर समाज के लोगों ने बनास पुलिया के समीप जाम लगाने की तैयारी की है। युवा जिलाध्यक्ष रामलाल संडिला की चेतावनी के बाद पुलिस प्रशासन यहां अलर्ट है। असल में, गुर्जर आंदोलनकारी रेल पटरी पर ही बातचीत करना चाहते हैं, लेकिन सरकार इसके लिए तैयार नहीं है। पिछले दिनों राज्य सरकार की ओर से पर्यटन मंत्री विश्वेंद्र सिंह और आईएएस नीरज के. पवन को मौके पर भेजा गया था,

लेकिन बात नहीं बन पाई। हालांकि, आंदोलन से पैदा हुए हालात पर सरकार की पूरी नजर है, लेकिन खुफिया विभाग के अलर्ट ने सरकारी अधिकारियों का नींद उड़ा दी है। इस अलर्ट में अन्य स्थानों पर हालात बिगड़ने का अंदेशा जताया गया है। बीते दिन धौलपुर में पुलिस के तीन वाहन फूंकने और पुलिस पर पथराव की घटनाओं से बचने के लिए जल्द समस्या का हल निकालने की पहल की जा रही है।

रेल यातायात प्रभावित, ट्रेनें रद्द

हिण्डौन रेलवे स्टेशन पर सोमवार को चौथे दिन भी सन्नाटा पसरा रहा। दिल्ली-मुंबई रेल मार्ग पर हिण्डौन से ट्रेनों का संचालन चार दिन से बंद है। गुर्जरों द्वारा मलारना पर ट्रैक जाम करने से यह स्थिति पैदा हुई है। ट्रेनों का संचालन बंद होने से यात्री परेशान हो रहे हैं। रेलवे ने आगामी तीन दिनों के लिए 55 ट्रेनें रद्द कर 26 ट्रेनों के मार्ग बदले हैं। गुर्जर आन्दोलन के चलते रेलवे को अब तक करीब 300 करोड़ का नुकसान हो चुका है। आंदोलन के चलते प्रतिदिन करीब 100 करोड़ का नुकसान हो रहा है। गुर्जर आंदोलन से रेल यातायात बुरी तरह प्रभावित हुआ है। रेल प्रशासन ने सोमवार को कई ट्रेनों को डायवर्ट किया है। गाड़ी संख्या 12963 हजरत निजामुद्दीन-उदयपुर को वाया भरतपुर-बांदीकुई-अजमेर-चंदेरिया मार्ग पर, गाड़ी संख्या 12904 अमृतसर-मुंबई सेंट्रल को वाया रेवाड़ी-जयपुर-सवाईमाधोपुर मार्ग पर, गाड़ी संख्या 19024 फिरोजपुर-मुंबई सेंट्रल को वाया रोहतक-रेवाड़ी-रींगस-फुलेरा-अजमेर-चंदेरिया और रतलाम मार्ग पर, गाड़ी संख्या 22660 देहरादून-कोच्चि वैली को रेवाड़ी-रींगस-फुलेरा-अजमेर-चंदेरिया मार्ग पर डायवर्ट किया गया है।

कर्नल बैसला के आवास पर नोटिस चस्पा

कलक्टर के निर्देश पर एसडीओ सुरेशचंद बुनकर के साथ उपखंड प्रशासन की टीम ने हिण्डौन के वर्धमाननगर स्थित कर्नल किरोड़ी सिंह बैसला के आवास पर पहुंच सुप्रीम कोर्ट व हाईकोर्ट के आदेशों की अवहेलना का नोटिस चस्पा किया। इसके साथ ही प्रशासन ने वर्ष 2007 में जारी हाईकोर्ट के उस आदेश की प्रतिलिपि भी चस्पा की हैं, जिनमें रेलवे ट्रेक, सड़क मार्ग रोकने के कृत्य को नागरिकों के मौलिक, संवैधानिक व विधिक अधिकारों का हनन नहीं करने की बात लिखी है। कर्नल के घर ताला लगा होने के कारण कलक्टर के नोटिस व हाईकोर्ट के आदेश को मुख्य द्वार पर चस्पा किया गया। नोटिस में लिखा है कि आंदोलन में भाग लेने वाले सभी व्यक्ति सुप्रीम कोर्ट व हाईकोर्ट द्वारा विभिन्न सिविल रिट पिटीशन में जारी दिशा-निर्देशों का पालन करेंगे। किसी प्रकार रास्ता रोका जाना, ट्रेन रोका जाना, सार्वजनिक व निजी सम्पत्ति को क्षतिग्रस्त करना, आमजन के जान माल को क्षति पहुंचाना या नागरिकों के किसी वर्ग के मौलिक सार्वजनिक या विधिक अधिकारों का उल्लंघन है। उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी|

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here