एंटी रोमियो स्क्वाड :एक महिला पुलिस कर्मी के साथ किया कुछ लोगों ने बहुत ही बुरा दुर्व्यवहार…..उत्तर-प्रदेश में लगातार महिलाओं के साथ हो रहे अपराध को देखते हुए जून में योगी सरकार ने एक बार फिर एंटी रोमियो स्क्वाड को एक्टिव करने का निर्देश दिया था। रामपुर के शाहाबाद में महिला पुलिसकर्मी सादे ड्रेस में मनचलों को पकड़ने के लिए निकलीं थीं। दो मनचलों ने महिला पुलिसकर्मी की साथ दुर्व्यवहार कर दिया। दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस का कहना है कि “उनमें से एक सीआईएसएफ सब इंस्पेक्टर होने का दावा कर रहा है, हालांकि उसने कोई सबूत नहीं दिया है। अगर सच पाया जाता है, तो उसके विभाग को सूचित किया जाएगा।”

रामपुर के एएसपी ने बताया कि – “हम एक ‘जुलाई अभियान’ चला रहे हैं, जहाँ हम महिलाओं और लड़कियों के बीच जागरूकता पैदा करते हैं, जिसके लिए एंटी रोमियो स्क्वॉड और टीमों का गठन किया गया है। हम डिकॉय रणनीति का पालन करते हैं। हम महिलाओं को सादे कपड़ों में बदमाशों को पकड़ने के लिए भेजते हैं। इन दोनों को ऐसे ही गिरफ्तार किया गया।

राज्य में बढ़ रहे महिलाओं के खिलाफ ज’घन्य अ’पराधों से शायद अब उत्तर प्रदेश सरकार की नींद टूटी। उसके बाद सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने महिलाओं के खिलाफ आप’राधिक मामलों पर लगाम लगाने के लिए एक बार फिर अपने चर्चित एंटी रोमियो स्क्वायड को एक्टिव मोड में लाने का फैसला किया। एंटी रोमियो स्क्वॉड को फिर से सक्रिय करने का उद्देश्य असामाजिक तत्वों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करना है।

मुख्यमंत्री ने गृह विभाग, राज्य पुलिस और महिला कल्याण अधिकारियों की एक उच्च स्तरीय बैठक की अध्यक्षता करते हुए यह और निर्देश जारी किए थे। पुलिस सार्वजनिक स्थानों और ऐसी संवेदनशील जगहों पर अ’पराध मुक्त अभियान चलाएगी जो अपराध की हिट लिस्ट में रहते हैं।

मार्च 2017 में पद संभालने के बाद, योगी आदित्यनाथ ने महिलाओं के उत्पीड़न की जांच के लिए एंटी रोमियो स्क्वॉड के गठन का आदेश दिया था। जो कुछ दिनों के बाद धीमा पड़ गया था।

Hindi Planet News पर ये खबर पढ़ने के लिए धन्यवाद, अगर आपको ये खबर अच्छी लगी हो तो इसे लाइक करके अपने सभी दोस्तों के साथ शेयर जरुर करें | ऐसी ही मजेदार खबरें पढ़ने के लिए हमें फॉलो जरुर करें |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here