कहते हैं उम्र सिर्फ एक नंबर है और 97 साल के इस बुजुर्ग ने यह बात साबित कर दी है. UAE में रहने वाले भारतीय मूल के एक बुजुर्ग का ड्राइविंग लाइसेंस एक्सपायर हो गया था. इस उम्र में शायद ही कोई अपना लाइसेंस रिन्यू कराने की ज़हमत उठाए. लेकिन तेह्मेतेन होमी धुन्जीबोय मेहता ने अगले 4 साल के लिए ड्राइविंग लाइसेंस रिन्यू करा लिया है.

मेहता का जन्म 1922 में हुआ था. वह दुबई की सड़कों पर गाड़ी चलाने वाले ऐसे पहले शख्स हैं जिनकी उम्र 90 से ज्यादा है. एनडीटीवी के अनुसार उम्र की इस दहलीज पर ड्राइविंग करने वाले मेहता अकेले शख्स नहीं हैं. ब्रिटिश महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के 97 वर्षीय पति प्रिंस फिलिप भी अब तक ड्राइविंग किया करते थे. लेकिन हाल ही उन्होंने अपनी स्वेच्छा से अपना ड्राइविंग लाइसेंस लौटा दिया क्योंकि एक हफ्ते पहले ही वो एक भयानक एक्सीडेंट से बाल-बाल बचे थे. इस एक्सीडेंट में उन्होंने दो महिलाओं को घायल कर दिया था.

आखिरी बार 2004 में चलाई थी गाड़ी

मेहता अकेले रहते हैं और उन्हें गाड़ी चलाने की कोई जल्दी नहीं है. उनका मानना है कि कारें लोगों को आलसी बनाती हैं. उन्हें पैदल चलना पसंद है और कई बार तो वह चार घंटे तक पैदल चलते हैं.

लंबे अरसे से दुबई में रहने वाले मेहता ने पिछली बार 2004 में गाड़ी चलाई थी. आमतौर पर अपने सफर के लिए वह सार्वजनिक गाड़ियों का इस्तेमाल करते हैं. मेहता ने मुस्कुराते हुए कहा, ‘किसी से मत कहिएगा. यह मेरी तंदरुस्ती और लंबी जिंदगी का राज़ है. मैं न सिगरेट पीता हूं और ना ही शराब को हाथ लगाता हूं.’ वह 1980 में दुबई आए थे और एक पांच सितारा होटल में राइटर की नौकरी करने लगे थे. इस होटल में 2002 तक काम किया. उस साल नियमित तौर पर कर्मचारियों की पृष्ठभूमि की जांच के दौरान उनकी उम्र का खुलासा हुआ और उन्हें इस्तीफा देने को कहा गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here