पिछले दिनों उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में प्रशासन ने छात्रसंघ चुनाव समाप्त करने का फैसला किया। जिसके बाद छात्रों ने जमकर इसका विरोध किया। इलाहबाद विश्वविद्यालय से कांग्रेस की छात्र संगठन NSUI के छात्रसंघ उपाध्यक्ष अखिलेश यादव को विश्वविद्यालय प्रशासन की ओर से निलंबित कर दिया गया है। उन्हें ब्लैक लिस्टेड भी कर दिया है। अखिलेश के इस निलंबन पर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने भाजपा पर निशाना साधा है। प्रियंका ने ट्वीट कर लिखा है कि – “इलाहाबाद विश्वविद्यालय छात्रसंघ को भंग करने के खिलाफ आवाज उठाने पर @nsui से छात्रसंघ उपाध्यक्ष अखिलेश यादव को प्रशासन ने निलंबित करके ब्लैक लिस्टेड कर दिया है। भाजपा सरकार तो खुद चुनकर आयी है। मगर छात्रों के चुनाव और उनकी आवाज से इतना डरती क्यों है? यह तानाशाही नहीं तो क्या है”?

प्रशासन ने विश्वविद्यालय में छात्र ‘परिषद’ व्यवस्था लागू करने के लिए इलाहाबाद हाईकोर्ट में शपथ-पत्र दाखिल किया है। यूनिवर्सिटी में जारी अराजकता व भ्रष्टाचार को उजागर करते हुए अखिलेश ने सोशल मीडिया में एक पोस्ट लिखा था जिसमे उन्होंने इलाहाबाद यूनिवर्सिटी को लंका और अधिकारियों को रावण कहा था। एक न्यूज़ पोर्टल के पत्रकार से बात करते हुए उपाध्यक्ष अखिलेश यादव का कहना था कि यूनिवर्सिटी प्रशासन की अनियमितताओं को उजागर करने के लिए लड़ाई लड़ते रहे हैं। उन्होने यूनिवर्सिटी में जारी भ्रष्टाचार, शिक्षक भर्ती में घोटाले के खिलग आवाज़ उठाते रहे हैं, इसलिए उन पर यह कार्यवाई की गयी है। अखिलेश यादव बीए थर्ड ईयर के छात्र हैं।

Hindi Planet News पर ये खबर पढ़ने के लिए धन्यवाद, अगर आपको ये खबर अच्छी लगी हो तो इसे लाइक करके अपने सभी दोस्तों के साथ शेयर जरुर करें | ऐसी ही मजेदार खबरें पढ़ने के लिए हमें फॉलो जरुर करें |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here