कैसे हो दोस्तों ? , Hindi Planet News पर आपका स्वागत है | अगर आपको ये खबर पसंद आये तो इसे अपने सभी दोस्तों के साथ शेयर जरुर करें | अगर आपका कोई सवाल या सुझाव हो तो हमें नीचे कमेंट में जरुर बताएं |

मुंबई सिटी एफसी मंगलवार को हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के पांचवें सीजन के दूसरे सेमीफाइनल के दूसरे चरण के मैच में एफसी गोवा को 1-0 से हराने के बाद भी फाइनल में नहीं जा सकी। उसे पहले चरण में घर में मिली हार का नुकसान उठाना पड़ा। गोवा ने मुंबई में खेले गए पहले चरण के मैच में 5-1 से जीत हासिल की थी। इसी कारण वह दो चरण की समाप्ति के बाद 5-2 के एग्रीगेट स्कोर के साथ फाइनल में पहुंची। फाइनल में उसका सामना रविवार को बेंगलुरू एफसी से होगा।

बेंगलुरू ने नार्थईस्ट को हरा लगातार दूसरी बार फाइनल में प्रवेश किया है। मुंबई जानती थी कि पहले चरण में मिली 5-1 से हार के बाद उसके फाइनल में जाने की संभावना बेहद कम है लेकिन वह कोशिश में कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती थी। इसलिए वह सिर्फ गोल करने के इरादे से उतरी। छठे मिनट में उसे सफलता भी मिल गई।

राफेल बास्तोस ने मुंबई को 1-0 से आगे कर दिया। गोवा के अहमद झाओ ने सेंटर में गलत पासिंग की और इस बीच गेंद आर्नाल्ड इसोको के पास आ गई जिन्होंने गोलपोस्ट के सामने खड़े राफेल को गेंद दी। राफेल ने बेहद आसानी से गेंद को नेट में डाल मुंबई को एक गोल की बढ़त दिला दी।

गोवा चिंतित तो नहीं थी, लेकिन उसकी तरफ से प्रयास ज्यादा हो नहीं रहे थे। 17वें मिनट में उसे कॉर्नर मिला जिस पर गोल नहीं हो सका। पांच मिनट बाद नवीन कुमार ने गोवा को दूसरा गोल खाने से बचा लिया। राफेल ने मोदू सोगू को पास दिया। सोगू के प्रयास को नवीन ने शानदार तरीके से रोक मुंबई को निराश किया।

34वें मिनट में गोवा के अहमद को मैच का पहला पीला कार्ड मिला। इसी मिनट में राफेल ने फ्री किक पर शानदार शॉट से नवीन की परीक्षा ली जिसमें गोवा के गोलकीपर सफल रहे।

अहमद को पीला कार्ड मिलने के बाद 39वें मिनट में गोवा के कोच ने उन्हें बाहर बुलाकर ईदू बेदिया को मैदान पर भेजा। पहले हाफ के अंत तक हालांकि गोवा की टीम बराबरी नहीं कर सकी।

पहले हाफ में पूरी तरह से शांत रहे गोवा के स्टार फेरान कोरोमिनास ने दूसरे हाफ में आते ही अपनी मौजूदगी दर्ज कराई। उन्होंने बॉक्स के बाहर से एक शानदार शॉट लिया जिसे मुंबई के गोलकीपर अमरिंदर सिंह ने रोक लिया। कोरोमिनास ने 60वें मिनट में भी जोयनेर लारोंको को छकाते हुए गोल करने का अच्छा प्रयास किया, लेकिन जोयनेर ने उन्हें गिरा दिया।

इसके अगले मिनट गोवा को कॉर्नर मिला जिसे ब्रैंडन फर्नाडेज ने लिया। इस कॉर्नर में ज्यादा दम नहीं था, इसलिए मुंबई ने इसे आसानी से क्लीयर कर दिया। 65वें मिनट में गोवा ने फर्नांडेज को बाहर बुला मनवीर सिंह को अंदर भेजा। फर्नाडेज को चोट के कारण बाहर जाना पड़ा।

मुंबई ने भी 70वें मिनट में बदलाव कर रायेनिएर फर्नांडेज को बाहर भेज मोहम्मद रफीक को अंदर उतारा। वक्त बीतता जा रहा था और मुंबई का चमत्कारिक जीत हासिल करने का सपना भी टूटता जा रहा था। अंतत: मुंबई इस मैच में तो 1-0 से जीत दर्ज करने में सफल रही लेकिन पहले चरण की करारी हार ने उसे फाइनल में जान्े से रोक दिया।

अगर आपको ये खबर अच्छी लगी हो तो इसे लाइक करके अपने सभी दोस्तों के साथ शेयर जरुर करें | अगर आपका कोई सवाल या सुझाव हो तो हमें कमेंट करके बताएं | इस तरह की और मजेदार खबरें देखने के लिए हमें फॉलो जरुर करें |
धन्यवाद 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here