अचानक कोच ने दुनिया से लिया अलविदा, जेम्स नीशम आये सदमे में…आईसीसी वर्ल्ड कप 2019 (World Cup 2019 Final) का फाइनल मुकाबला न्यूजीलैंड और इंग्लैंड के बीच खेला गया| सुपर ओवर में मुकाबला टाई होने के बाद बाउंड्री के आधार पर मेजबान इंग्लैंड को जीत दे दी गई| वहीं न्यूजीलैंड के लिए सुपर ओवर में छक्का लगाने वाले जेम्स नीशम (James Neesham) बुरे समय से गुजर रहे हैं| जिस समय उन्होंने फ़ाइनल मुकाबले के सुपर ओवर में छक्का लगाकर अपनी टीम को जीताने की उम्मीद जगाई, उसी समय उनके कोच ने इस दुनिया से अलविदा कह दिया|

14 जुलाई को उनके ऑकलैंड ग्रामर स्कूल के पूर्व शिक्षक और कोच डेविड जेम्स गॉर्डन ने अपनी आखिरी सांस ली| गॉर्डन की बेटी लियोनी ने कहा कि, जिस क्षण नीशम ने सोमवार सुबह (न्यूजीलैंड के समयानुसार) 16 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए सुपर ओवर की दूसरी गेंद पर छक्का लगाया, उनके पिता की सांसें रुक गईं|

उन्होंने आगे बताया, एक नर्स सुपर ओवर के दौरान आई और उसने कहा कि उनकी सांस बदल रही है| मुझे लगता है कि नीशम ने वह छक्का लगाया और उन्होंने अपनी आखिरी सांस ली| अपने पिता के बारे में लियोनी ने कहा, उनका सेंस ऑफ ह्यूमर कमाल का था और वह बहुत ही जीवंत इंसान थे और उन्हें ये जानकर खुशी होती कि नीशम ऐसा किया है|

नीशम ने कोच को दी श्रद्धांजलि

न्यूजीलैंड के ऑलराउंडर जिमी नीशम गुरुवार को अपने कोच को श्रद्धांजलि दी और ट्वीटर पर लिखा, “डेव गॉर्डन, मेरे हाई स्कूल टीचर, कोच और दोस्त| इस खेल के प्रति आपका प्यार प्रभावी था, खौसतार पर हम जैसे लोगों के लिए जिन्हें आपके अंडर खेलने का सौभाग्य मिला| आप ऐसे मैच के बाद क्या प्रतिक्रिया देते, उम्मीद है कि आपको गर्व होता| हर चीज के लिए शुक्रिया|”

गॉर्डन ने जिमी नीशम, लॉकी फर्ग्युसन समेत कई हाई स्कूल स्टूडेंट्स को ऑकलैंड ग्रामर स्कूल में शिक्षक और क्रिकेट और हॉकी कोच के तौर पर अपने 25 साल के कार्यकाल के दौरान कोचिंग दी थी|

Hindi Planet News पर ये खबर पढ़ने के लिए धन्यवाद, अगर आपको ये खबर अच्छी लगी हो तो इसे लाइक करके अपने सभी दोस्तों के साथ शेयर जरुर करें | ऐसी ही मजेदार खबरें पढ़ने के लिए हमें फॉलो जरुर करें |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here